1. Home
  2. /
  3. Hindi
  4. /
  5. शेयर खरीदने से पहले...

शेयर खरीदने से पहले 11 बातें ध्यान में रखें, फायदे में रहेंगे

  1. Home
  2. »
  3. Hindi
  4. »
  5. शेयर खरीदने से पहले 11…
Share Kharidne Steps
1
(1)

कोई भी सामान खरीदने से पहले उसके बारे में दुकानदार से काफी पूछताछ करते हैं या फिर इंटरनेट से भी जानकारी लेते हैं। उसी तरह, किसी भी शेयर में पैसा लगाने से पहले उसके बारे में निवेशकों को कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए। जब आप किसी शेयर में निवेश करते हैं, इसका मतलब हुआ कि शेयर में निवेश के जरिये उस कंपनी में पैसा लगाते हैं जो कोई ना कोई कारोबार करती है।

अगर आप ट्रेडर हैं और इंट्रा डे या फिर फ्यूचर और ऑप्शन में निवेश करते हैं, तो आपको पहले चार्ट पैटर्न्स और टेक्निकल एनालिसिस सीखना होगा। लेकिन, आप अगर एक निवेशक हैं यानी लंबी अवधि तक किसी शेयर में पैसा लगाकर पैसा कमाना चाहते हैं, तो आपको कोई भी शेयर खरीदने से पहले इन 11 बातों का ध्यान रखें।

 शेयर खरीदने से पहले 11 बातों का ध्यान रखें:

1)  कंपनी के कारोबार के बारे में जानें: जिस कंपनी के शेयर में पैसे लगाने जा रहे हों, उस कंपनी के कारोबार के बारे में पहले जान लें। आप अक्सर देखते होंगे कि जब किसी भी कंपनी के बारे में कोई खबर आती है, तो उसके शेयर की कीमत काफी ऊपर-नीचे होती है। कंपनी के तिमाही और सालाना वित्तीय नतीजे पर नजर रखें। वित्तीय नतीजे में सेल्स, रेवेन्यू, प्रॉफिट, भविष्य में प्रदर्शन के अनुमान, नए निवेश से जुड़ी बातों पर खास ध्यान दें।

इसके अलावा, कंपनी कौन कौन से प्रोडक्ट बेचती है, सबसे ज्यादा मार्जिन किस प्रोडक्ट में होता है, कौन सा प्रोडक्ट उस इंडस्ट्री में नंबर वन है, सरकार की कौन-कौन सी नीतियां कंपनी पर असर डाल सकती है, कंपनी का उसके कंपीटीटर्स के मुकाबले ग्रोथ कैसी है, जैसी बातों के बारे में पहले जान लेना चाहिए। 

2) कंपनी पर कर्ज है या नहीं: किसी भी कंपनी में पैसे लगाने से पहले ये देख लेना चाहिए कि कंपनी पर कर्ज है या नहीं है। कंपनी ने अगर कर्ज लिया है, तो उसका इस्तेमाल कंपनी नए प्रोडक्ट लांच करने के लिए कर रही है या फिर मार्केटिंग पर, ये भी ध्यान में रखना चाहिए। जो निवेशक, उन कंपनियों में पैसा लगाते हैं. जिन पर काफी ज्यादा कर्ज है, वह खुद को जोखिम में डालते हैं। उन कंपनियों के शेयर में पैसा लगाना अच्छा माना जाता है, जिन पर कोई कर्ज नहीं है और अगर कर्ज है भी तो उसका इस्तेमाल उन कामों में किया जा रहा हो, जिस काम के लिए कर्ज लिया गया है।  

3) कंपनी की बैलेंस शीट और वित्तीय सेहत देखें: किसी भी कंपनी में पैसा लगाने से पहले उसकी बैलेंस शीट और वित्तीय सेहत जरूर चेक कर लें। किसी कंपनी की बैलेंस शीट से आप उसकी नकदी की स्थिति, संपत्ति और लायबिलिटी के बारे में जान सकते हैं। अच्छी वित्तीय सेहत वाली कंपनी में पैसा लगाने का मतलब है भविष्य में मुनाफे की उम्मीद।

4) कंपनी का इतिहास जांचें:  पुरानी और अनुभवी कंपनी में पैसा लगाने पर अच्छा रिटर्न कमाने की उम्मीद ज्यादा रहती है। ऐसा इसलिये कि क्योंकि उसका प्रदर्शन काफी जांचा-परखा रहता है। नई कंपनी के पास कारोबार करने का अनुभव कम होता है।

5) लोअर-अपर सर्किट लगने वाले शेयरों में पैसे लगाने से बचें: कई बार कुछ कंपनी में लगातार लोअर सर्किट लगता रहता है, जबकि कुछ में लगातार अपर सर्किट लगता रहता है। जानकारों का कहना है कि ऐसे शेयरों में पैसे लगाने से बचना चाहिए।

6)  कंपनी के कुछ फाइनेंशियल रेश्यो पर नजर रखें: किसी भी कंपनी का फंडामेंटल रिसर्च करते समय कुछ जरूरी फाइनेंशियल रेश्यो को जरूर देखना चाहिए। इसमें शामिल है- पीई (प्राइस टू अर्निंग) रेश्यो, पीबी (प्राइस टू बुक वैल्यू) रेश्यो, डेट टू इक्विटी रेश्यो, ईपीएस (अर्निंग पर शेयर), बुक वैल्यू पर शेयर। इन फाइनेंशियल रेश्यो से आप पता कर सकते हैं कि कंपनी की वित्तीय स्थिति कमजोर है या मजबूत। पीई रेश्यो से पता चलता है कि किसी कंपनी के शेयर की कीमत कम है या ज्यादा।

7) कंपनी का मैनेजमेंट कैसा है: किसी भी शेयर में पैसा लगाने से पहले उस कंपनी के मैनेजमेंट के बारे में जान लें। कंपनी के प्रोमोटर्स और सीईओ के बारे में विस्तार से जान लें। अच्छे मैनेजमेंट वाली कंपनी के शेयर में पैसे लगाने पर अच्छे रिर्टन की उम्मीद रहती है।

8) कंपनी के सेक्टर और सेक्टर में उसकी मजबूती को जांचें: आप जिस कंपनी के शेयर में पैसा लगाने जा रहे हैं, उस कंपनी के सेक्टर और सेक्टर में उस कंपनी की मजबूती के लिहाज से क्या स्थिति है, इस पर भी नजर रखें। अगर कंपनी किसी सेक्टर की लीडर है और सबसे अधिक मार्केट शेयर वाली है, तो वैसी कंपनी में पैसा लगाने के लिए सोच सकते हैं। हिंदुस्तान युनिलीवर, आईआरसीटीसी, बजाज फाइनेंस, सीडीएसएल, बीएसई अपने अपने सेक्टर की लीडर है।

9) नवाचार और ग्रोथ वाली कंपनी में पैसे लगाएं: नवाचार और ग्रोथ में निवेश नहीं करने वाली बहुत सारी कंपनियों को डूबते हुए देखा गया है। इनमें बड़ी बड़ी कंपनियां भी शामिल हैं। जैसे, हीरो स्कूटी ने खुद को बचा लिया, क्योंकि उसने समय के साथ-साथ नवाचार किया। वहीं, एटलस साइकिल बनाने वाली कंपनी आज कहीं नहीं दिखती, क्योंकि समय रहते उसने नई तकनीक नहीं अपनाई।

इसलिये, जानकार लंबे समय तक एक ही तरह की तकनीक अपनाने और एक ही प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनियों के मुकाबले नवाचार और ग्रोथ करने वाली कंपनियों में पैसे लगाने की सलाह देते हैं।

10) कंपनी की भविष्य की योजनाओं को जानें: जिस कंपनी में आप पैसा लगाना चाहते हैं, उनकी भविष्य की योजनाओं के बारे में भी पता कर लें। इससे भविष्य में उस कंपनी का कारोबार कैसा रहेगा, उसका प्रदर्शन कैसा रहेगा, इसका आप अंदाजा लगा सकते हैं। अगर कंपनी की भविष्य की योजनाएं अच्छी रहेंगी, तो कंपनी का कारोबार भी अच्छा रहेगा। मतलब, ऐसी कंपनी में पैसा लगा कर भविष्य में अच्छे रिटर्न की उम्मीद कर सकते हैं।

11) कंपनी का शेयर होल्डिंग पैटर्न देखें: कंपनी का शेयर होल्डिंग पैटर्न का मतलब है कि उस कंपनी में प्रोमोटर्स के अलावा अलग अलग निवेशक वर्ग, जैसे कि खुदरा निवेशक, एफआईआई, डीआईआई, एचएनआई बगैरह की कितनी-कितनी हिस्सेदारी है, इसका पता करें। इसे प्रतिशत में जानना आसान होता है। जानकारों का मानना है कि जिस कंपनी में उस कंपनी के प्रोमोटर्स की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत से या उससे अधिक हो, तो उसमें पैसे लगाना फायदेमंद होगा।

डिस्क्लेमर:  यह जानकारी के लिए है। इसे निवेश की सलाह मत मानें।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 1 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

+ posts
Share on:

Want A Personalized Portfolio of 20-25 Potential High Growth Stocks?

*T&C Apply

Chat with us